Best Shayari On Mother's Day in Hindi || Happy Mother's Day

Best Shayari On Mother's Day in Hindi || Happy Mother's Day

Mother's Day is a celebration honoring the mother of the family, as well as motherhood, maternal bonds, and the influence of mothers in society. It is celebrated on various days in many parts of the world.
Happy Mothers Day
Happy Mothers Day
सारे जहां में नहीं मिलता
बेशुमार इतना,
सुकून मिलता है
मां के प्यार में जितना.

बेहद मीठा कोमल होता है,
मां के प्यार से ज्यादा
कुछ नहीं अनमोल होता है.
हैप्पी मदर्स डे

रुके तो चांद जैसी है,
चले तो हवाओं जैसी है,
वह माही है
जो धूप में भी छांव जैसी है!
हैप्पी मदर्स डे

Happy Mother's Day Shayri

उसके रहते जीवन में कोई
गम नहीं होता,
दुनिया साथ दे ना दे पर मां का प्यार
कभी कम नहीं होता!
हैप्पी मदर्स डे

मिलने को तो हजारों
लोग मिल जाते हैं,
पर मां जैसा
दोबारा कोई नहीं मिलता!
हैप्पी मदर्स डे

मत कहिए मेरे साथ रहती है मां,
कहिए कि मां के साथ रहते हैं हम.
हैप्पी मदर्स डे

मंजिल दूर और सफर बहुत है,
छोटी सी जिंदगी की फिक्र बहुत है,
मार डालती यह दुनिया कब की हमें
लेकिन मां की दुआओं में असर बहुत है!
हैप्पी मदर्स डे

तेरे ही आंचल में निकला बचपन,
तुझ से ही तो जुड़ी हर धड़कन,
कहने को तो मां सब कहते
पर मेरे लिए तो है तु भगवान!

मेरे दिल का बस यही है कहना,
वह मां तुम बस ऐसे ही रहना!!
हैप्पी मदर्स डे

मेरी दुनिया में इतनी शोहरत है,
मेरी मां की बदौलत है..
हैप्पी मदर्स डे
तपते बदन पर
बिगर माल लगती है मां…
कितनी शिद्दत से मेरा
ख्याल रखती है मां!!
हैप्पी मदर्स डे

Jannat Ka Har Lamha
Deedar Kiya Tha
God Mein Uthakar Jab
Maa Ne Pyaar Kiya Tha
HAPPY MOTHER’S DAY

हर इंसान के ज़िन्दगी में वह सबसे ख़ास होती है,
दूर होते हुए भी वह दिल के पास होती है,
जिसके सामने मौत भी अपना सर झुका दे,
वह और कोई नहीं बस माँ होती है.

सबने बताया कि, आज मां का दिन है..
कौन बताएगा कि वो कौन सा दिन है, जो मां के बिन है.

यूं ही नहीं गूंजती किल्कारीयां‬ घर आँगन‬ के हर कोने मे..!…
जान ‎हथैली‬ पर रखनी‪ पड़ती है ‘माँ’ को ‘‪माँ‬’ होने मे…!!‪

जो आपकी खुशी के
लिये हार मान लेता है,
उससे आप कभी जीत नही सकते…
मदर्स डे की शुभकामनाये! !!

‘माँ’ तुम अनंत हो
कैसे व्यक्त करूँ तुम्हें मैं शब्दों में ….
तुम मेरा आस्तित्व हो
तुम समा नहीं सतकी शब्दों-अर्थों में॥

♥MAA♥ na hogi to
wafa kon krega,
Mamta ka haq ada kon krega,
Ya RAB her ek ki
Maa ko sada salamat rakhna,
Werna humari zindagi ki dua kon krega_♥
LOVE ♥U♥ MOM

माँ के लिए क्या लिखूँ दोस्तों, माँ ने खुद मुझे लिखा है |
🌹हैप्पी मदर्स डे🌹

मांग लूँ यह मन्नत की
फिर यही “जहाँ” मिले…💫
फिर वही गोद ,
फिर वही ✨माँ ✨मिले…

रब ने माँ को यह आज़मत कमाल दी,
उसकी दुआ पर हर मुसीबत भी टाल दी…
माँ के प्यार की कुछ इस तरह मिसाल दी,
कि जन्नत उठाकर माँ के क़दमों में डाल दी!

ऐ अंधेरे देख ले, मुँह तेरा काला हो गया,
माँ ने आँखे खोल दी, घर में उजाला हो गया…

हमें जन्म देने के बाद माँ अपनी अंतिम सांसों तक हमें ममता की छांव तले रखती है
कि हमें एक खरोच तक न लगे यही महानता है उनकी!

जिस के होने से मैं खुद को मुक्कमल मानती हूँ…
मेरे रब के बाद… मैं बस मेरी माँ को जानती हूँ !!!

मैं ही नहीं,
बड़े बड़े सूरमा भी याद करते हैं…
‘दर्द’ जब हद से ज्याद होता है तो,
सब “माँ” याद करते हैं |।।
Mothers-Day-Shayari
अब कहाँ किसी को फिक्र रहती है, मेरे देर से घर आने की.,
माँ थी तो  उसे िफक्र रहती थी, मेरे देर से घर आने की.!

वो हाथ✋सिर पर रख दे तो 🙏आशीर्वाद बन जाता है..
उसको रुलाने वाला जल्लाद बन जाता है..
माँ का ❤️दिल ना❌ दुखाना ☝️कभी..
उसका तो जूठा भी प्रसाद बन जाता है..
माँ अपने बच्चों पर सब निछावर करती है..
बिना लालच उन्हें प्यार करती है..
भगवान का दूसरा रूप है हमारी माँ..
जो हर दुख में हमारा साथ देती है..
👩💐👩💐👩💐👩💐👩

लबों पर उसके कभी बददुआ नहीं होती,
बस एक माँ है जो कभी खफ़ा नहीं होती।

“कौन सी है वो चीज जो यहांं”
“नहीं िमलती”
“सब कुछ िमलता है लेिकन मां”
“नही िमलती”
“मां ऐसी होती है दोसतों”
“जो िजंदगी में िफर”
“नही िमलती”
“खुश रखा करो उस मां को”
“िफर देखो जननत कहां”
“नही िमलती”
“हैप्पी मदर्स डे”

Maa hai mohabbat ka naam,
Maa ko hazaron salaam,
Karde fida zindagi,
Aaye jo bachon ke kaam…😘👵🏻
Zara C chot lage to wo aansu baha deti hy,
Apni sukoon bhari goad me hum ko sula deti hy!
Hote hen khafa hum jb, to duniya ko bhula deti hy,

Har Maa ko Salaam…..🙏
Aapke Pyaar, Mamta,Sneh,aur thyaag ko salaam..🙏
Aur apka saya hamesha sabko Ashirwad deta rahe….💐

Wo Meri Badsaluki Par B Mujhe Dua Deti Hai,
Aagosh Mein Lekar sub Gham Bhula Deti Hai,
Yu Lagta H Jesy JANNAT Se Aa Rahi h Khushbu
Jab wo Apne Pallu se Mujhe Hawa Deti Hain
Main Jo Anjane Mein Karoo Koi Galti,
Meri “MAA” es Par Bhi Musskra Deti Hain
Kya Khoob Banaya Hai RAB Ne Rishta “MAA” ka,
Viraan Ghar Ko B “MAA” JANNAT Bana Deti Hain

Apne chote chote raaz saare❤
Jisko main bata saku wo tum akeli ho❤
Maa tum meri sabse achi dost ho❤
Jab bhi aaye mushkilen❤
Tum hath tham rasta dikhati ho❤
Chehre pe hai kya likha❤
Jo bin bataye padh sake wo tum he ho❤
Maa tum meri sabse achi dost ho❤
Maa tum meri sabse achi dost ho❤
Dost ho, saheli ho❤

Log Masjidon main Jannat Talash Kartay Hain,
Fursat Itni Nahi Hoti Qadam Maa K Choom Lain…

maa hi pahele sidi jivan ki,
maa hi deti hai bagia ko ki dali ko sahara,
maa tum hi ho jise mene har samay apne saath paya….Love u maa

Post a comment

0 Comments